Friday, 28 February 2020

पैनिक अटैक लक्षण कारण बचाव परीक्षण Panic Attack Symptoms Causes Disgnostic Tests Treatment

पैनिक अटैक के लक्षण कारण बचाव परीक्षण Panic Attack Symptoms Causes Diagnostic Tests Treatment

पैनिक अटैक अचानक डर लगने की भावना है जो गंभीर रूप से शारीरिक प्रतिक्रियाओं को उत्तेजित करती है और ऐसे में खतरे का कोई स्पष्ट कारण नहीं होता. जब पैनिक अटैक आता है तो, आपके दिमाग में ये आ  सकता है कि आप नियंत्रण खो रहे हैं, या आपको दिल का दौरा पड़ रहा है या आप मरने वाले हैं. पैनिक अटैक कही भी और किसी भी समय हो सकता है.

पैनिक अटैक के लक्षण कारण बचाव परीक्षण Panic Attack Symptoms Causes Diagnostic Tests Treatment पैनिक अटैक अचानक डर लगने की भावना है


पैनिक अटैक के लक्षण Panic Attack Symptoms
पैनिक अटैक आमतौर पर अचानक से शुरू होते हैं. पैनिक अटैक के निम्नलिखित लक्षण ये हैं -
1.   नियंत्रण खोने से मृत्यु होने का डर.
   
3.   ह्रदय गति का तेज़ होना
   
5.   कांपना
   

7.   सांस फूलना
   

9.   पसीना आना
                    
11.                     ठंड लगना
                     
13.                     पेट में ऐंठन.
                     
15.                     छाती में दर्द.
                    
17.                     सिर दर्द.
                     
19.                     चक्कर आना.
                     

21.                     बेहोशी.
23.                     निगलने में परेशानी.
                     
25.                     गले में खिंचाव होना.


पैनिक अटैक के कारण Panic Attack Causes

अभी तक ये पता नहीं चल पाया है कि पैनिक अटैक के क्या कारण होते हैं, लेकिन कुछ कारक इसकी वजह हो सकते हैं जैसे -
1.   अनुवांशिकता
   
3.   अधिक तनाव
   

5.   मस्तिष्क के कार्य के हिस्सों में बदलाव 
   
7.   नकारात्मक भावनाओं के प्रति अत्यधिक संवेदनशील होना

पैनिक अटैक से बचाव Protection form Panic Attack

इसके कुछ तरीके जोखिम को कम कर सकते हैं -
1.   पैनिक अटैक का जितना जल्दी हो सके इलाज लें ताकि यह समस्या और ज़्यादा बढ़े नहीं
   
3.   पैनिक अटैक को बढ़ने से रोकने के लिए किसी भी तरह का इलाज छोड़ें
   
5.   चिंता से बचना है तो नियमित शारीरिक गतिविधियां करते रहें.

पैनिक अटैक का परीक्षण Panic Attack Diagnosis or Tests

अगर पैनिक अटैक के लक्षण अनुभव हो तो आपको आपातकालीन चिकित्सा लेनी चाहिए. जब आपको पैनिक अटैक
 आता है तो पहली बार आपको दिल का दौरा पड़ने जैसे समस्या लग सकती है. डॉक्टर आपके कई टेस्ट करेंगे जिसमें 
देखेंगे कि कही वो दिल के दौरे के कारण तो नहीं है. वे ऐसे अन्य लक्षणों को देखने के लिए ब्लड टेस्ट या 
इलेक्ट्रोकार्डियोग्राम (ईसीजी) कर सकते हैं जिससे ह्रदय की गतिविधियों का पता चल सके.

पैनिक अटैक का इलाज How to Treat Panic Attack?

पैनिक अटैक के उपचार का लक्ष्य आपके लक्षणों को कम करना या खत्म करना है. पैनिक अटैक कुछ मामलों में दवाओं 
के माध्यम या थेरेपी की मदद से ठीक किया जाता है

पैनिक अटैक थेरेपी Panic Attack Therapy

थेरेपी में, आपको अपने विचारों और कार्यों को बदलना सिखाते हैं जिससे आप अपने पैनिक अटैक को अच्छे से समझ सकें
 और डर को नियंत्रित कर सकें.
इन उपचारों के अलावा, अपने लक्षणों को कम करने के लिए आप घरेलू उपाय भी कर सकते हैं जैसे -
1.   रोजाना व्यायाम करना
   
3.   पर्याप्त नींद लेना
  
5.   कैफीन मौजूद उत्पादों का इस्तेमाल करना.
   

7.   सही डाइट लेना.
   

दवाएं Medicines for Panic Attack

पैनिक अटैक के इलाज के लिए दवाओं में एंटीडिप्रेसेंट दवाओं के समूह का इस्तेमाल किया जाता है. जैसे 

1.   फ्ल्युकसेटाइन (Fluoxetine)
   
3.   सेरट्रलाइन (Sertraline)
   
5.   पैरोक्सेटाइन (Paroxetine)
   








No comments:

Post a Comment

Appointment Management Scheduling System Software अपॉइनमेंट मैनेजमेंट सिस्टम सॉफ्टवेयर

Appointment Management Software Scheduling System अपॉइनमेंट मैनेजमेंट सिस्टम सॉफ्टवेयर छोटे स्पा से भीड़भाड़ वाले हॉस्पिटल से , फर्क...